दोस्त ने अपनी बहन को चुदवाया घर बुलाकर

एक बेड पर डबल चुदाई हुई. मेरे दोस्त की बहन और बीवी की चुदाई मैंने और मेरे दोस्त ने की एक ही डबल बेड पर. दोनों लड़कियां खुल कर चुदी पूरी नंगी होकर.

दोस्तो, आजकल लोग चुदाई के लिए रिश्तों को भी भूल गए हैं; आज बाप बेटी को, बेटा मां को भी चोद रहे हैं।

आज की यह कहानी मेरे ऐसे दोस्त और उसकी सगी बड़ी बहन की है।

आप जानते हैं कि मैं भी चुदाई का कितना बड़ा दीवाना हूं और अपनी ही चाची को चोद चुका हूं।
अब मैं डबल चुदाई कहानी पर आता हूं।

दोस्तो, मेरा अंतर्वासना पर एक दोस्त बना रोमिल, जो मध्यप्रदेश में रहता है.
हम अच्छे दोस्त बन गए और एक दूसरे से अपनी बातें साझा करने लगे।

जब उसने अपनी सगी बहन की चुदाई के बारे में बताया तो मुझे बहुत अच्छा लगा।

और मैंने उसकी बहन के साथ चुदाई की कहानी अन्तर्वासना पर डाल दी।

एक दिन रोमिल ने मुझे अपनी बहन, जिसका नाम राशि है, की फोटो भेजी।
वो बहुत सैक्सी लग रही थी और मैंने उस रात दो बार मुठ मारी।

धीरे धीरे काफी दिन हो गए और रोमिल ने अपने जन्म दिन पर मुझे अपने घर बुलाया और मैं ट्रेन से पहुंच गया.

वो मुझे स्टेशन से घर ले गया।

उसके घर उसके मम्मी पापा, उसकी पत्नी पिंकी भाभी और राशि आयी हुई थी।
हमने रात को पार्टी की और उसमें वाइन भी पी।

सबको नशा हो गया और हम सोने के लिए रूम में आ गए।

उसके बैडरूम में हम चारों आकर बातें करने लगे थोड़ी देर बाद भाभी और राशि ने नाइटी पहन ली।
अब राशि को देखकर मेरा नशा उतर गया।

तभी रोमिल बोला- राज भाई, तुम भी कपड़े बदल लो।
मैंने कहा- मैं तो रात में सिर्फ अंडरवियर में सोता हूं।

इतने में पिंकी भाभी बोली- यहां भी ऐसे ही सो सकते हो!
अब पिंकी, रोमिल, मैं और राशि … हम चारों डबल बैड पर लेट गए।

थोड़ी देर बाद रोमिल ने पिंकी भाभी को नंगी कर दिया और उसकी चूचियों को मसलने लगे।
रोमिल ने मेरे कान में कहा- तुम भी राशि को गर्म कर दो।

मैंने धीरे से अपना हाथ उसकी जांघों पर रख दिया.
तो वो भी मेरे पास खिसकने लगी।
मैंने उसकी नाईटी ऊपर कर दी उसने पैंटी नहीं पहनी थी अब मेरा लौड़ा खड़ा होने लगा।

मैं समझ गया कि रोमिल ने शायद उसे पहले ही समझा दिया था।

रोमिल ने पिंकी भाभी की चुदाई शुरू कर दी।

मैंने भी राशि की चूत में उंगली घुसा दी और अंदर-बाहर करने लगा।

धीरे धीरे मैंने राशि को पूरी नंगी कर दिया और वो मेरे लौड़े को सहलाने लगी।

तभी रोमिल बोला- राज, क्या हुआ? मेरी बहन को भी मज़ा दो. आज मेरा जन्मदिन है। आज सबको मेरी बात माननी पड़ेगी।
वो बोला- दीदी, मेरा दोस्त आपके लिए आया है इसे खुश कर दो।

अब मैंने अपना लन्ड राशि दीदी के मुंह में डाल दिया और वो मस्त होकर चूस रही थी.
मैंने उनकी चूचियों को पकड़ कर दबाना शुरु कर दिया और रोमिल को देखने लगा.

वो पिंकी भाभी को जमकर चोद रहा था वो आहह आहह आहह करके मस्ती में चुदवा रही थी।

राशि दीदी ने लंड को तैयार कर दिया और लेट गई.
मैं उनके ऊपर आ गया और उनकी चूत में लन्ड घुसा दिया और चोदने लगा.
वो आहह उहह आहह करके पूरा लौड़ा अन्दर तक ले रही थी।

अब एक बैड पर डबल चुदाई चल रही थी मैंने अपनी लाइफ में पहली बार ऐसा नजारा देखा था।

आज मेरे सामने सैक्सी मूवी का लाइव प्रसारण चल रहा था।

अब दोनों ननद भाभी को बराबर से लंड मिल रहा था और दोनों आहह आहह आहह आहह की मस्त सैक्सी आवाज निकाल कर जोश बढ़ा रही थी।

तभी हम दोनों दोस्तों ने दोनों को घोड़ी बना दिया और दोनों ने एक साथ लंड घुसा कर चोदना शुरू कर दिया।

अब पिंकी और राशि दीदी अपनी अपनी गांड आगे पीछे करके लंड लेने लगी।
हम दोनों ऐसे चोद रहे थे जैसे घुड़दौड़ चल रही हो और कोई भी रेस में हारना नहीं चाह रहा था।

दोनों की रेस में कभी पिंकी भाभी आगे तो कभी राशि दीदी!

रोमिल हंसते हुए बोला- राज भाई, कभी ऐसी सवारी पहले की?
मैंने कहा- हां सवारी तो की है लेकिन कभी रेस नहीं लगाई.
और तेज़ तेज़ झटके लगाने लगा।

तभी पिंकी भाभी ने शायद पानी छोड़ दिया और फच्च फच्च की आवाज आने लगी।

मैंने राशि दीदी को ‘चल मेरी घोड़ी’ बोल कर सटासट सटासट चोदना शुरू कर दिया।

अब रोमिल ने पिंकी भाभी को नीचे लिटा दिया और ऊपर चढ़कर चोदने लगा।

मैंने हंसते हुए कहा- राज शर्मा को रेस में हराना मुश्किल है।
तभी राशि दीदी बोली- राज, तुम अपनी घोड़ी को मत भूलो!

मैंने अपने लौड़े का जोर से झटका लगाया और बोला- हां मेरी घोड़ी … और तेज़ दौड़ाता हूं तुझे!
और सटासट सटासट अंदर बाहर करने लगा।

अब राशि दीदी ने भी अपना पानी छोड़ दिया और लंड फच्च फच्च करके अंदर बाहर करने लगा।

मैंने भी राशि को नीचे लिटा दिया और चोदने लगा; राशि दीदी की चूची दबाने लगा चूसने लगा।

पिंकी भाभी बोली- राज भैया, मेरी ननद मज़ा दे रही है ना?
मैंने कहा- भाभी, आपकी ननद तो लंबी रेस की घोड़ी है।

अब मैंने राशि दीदी को तेजी से चोदना शुरू कर दिया और रोमिल भी पिंकी भाभी को जमकर चोद रहा था।

क़मरे में चारों तरफ डबल चुदाई का शोर गूंजने लगा और पलंग भी हिलने लगा।
चारों मिलकर चुदाई का घमासान युद्ध लड़ रहे थे और एक-दूसरे को चूमने लगे।

अब रोमिल की सिसकारियां तेज़ हो गई और झटके के साथ उसने अंदर ही माल छोड़ दिया और पिंकी भाभी के ऊपर गिर गया।

मैं भी जोश में आ गया और राशि दीदी को तेजी से चोदने लगा.
अब दोनों की सिसकारियां तेज़ हो गई थी और आहह ओहह उम्महह करके अंदर बाहर लंड गपागप गपागप चोदने लगा।

थोड़ी देर बाद दोनों ने एक साथ पानी छोड़ दिया और एक-दूसरे से लिपटकर चूमाचाटी करने लगे।

कुछ देर बाद हम दोनों अलग हुए और बाथरूम चले गए.

हमारे पीछे पीछे पिंकी भाभी और रोमिल आ गया।

वापस आकर सबने एक एक पैग पिया और बिस्तर पर आ गए।

भाभी रोमिल का और दीदी मेरे लौड़े को चुसने लगी और हम दोनों उनकी चूचियों को मसलने लगे।
अब शर्म तो जैसे किसी कोने में छुप गई थी।

अब हमने दोनों को लिटा दिया और ननद भाभी की चूत चाटने लगे.
दोनों आहह आहह आहह आहह करके मस्ती करने लगी.

हमने जीभ चूत में अंदर तक घुसा दी और अंदर-बाहर करने लगे.
वे दोनों अपने अपने बूब्स दबाने लगी और मचलने लगी।

तब हम दोनों दोस्त बिस्तर पर सीधे लेट गए और पिंकी भाभी रोमिल के और दीदी मेरे लंड पर बैठ गई.

दोनों लड़कियां किसी मशहूर रंडी के जैसे लंड पर उछल उछल कर गांड पटकने लगी. हम दोनों नीचे से झटके लगाने लगे थे।

अब कमरे में चुदाई पार्टी शुरू हो गई थी और रोमिल का जन्मदिन यादगार बन गया था।

दोनों गर्म नंगी लड़कियां लंड पर बैठ कर स्वर्ग की सैर पर निकल पड़ी थी।
मैंने जो मूवी में देखा था वो सब मेरे साथ सच हो रहा था।

अब मैंने राशि दीदी को बिस्तर से नीचे उतार दिया और उसकी दोनों टांगों को चौड़ा कर चोदने लगा।

पिंकी भाभी अब भी लंड पर सवार थी और उछल उछल कर चुदाई का मज़ा ले रही थी।

यहां दीदी की सिसकारियां तेज़ हो गई और मैं गपागप गपागप अंदर बाहर करने लगा।

अब दीदी ने अपनी चूत की पकड़ बढ़ा दी और लंड फंसकर अंदर बाहर होने लगा था

मैंने झटकों की रफ्तार बढ़ा दी, दीदी ने सिसकारी के साथ मेरा लौड़ा गीला कर दिया।

इसके बाद मैंने दीदी को बिस्तर पर लिटा दिया और ऊपर आ गया।

रोमिल ने भी भाभी को उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और चोदने लगा.
अब भाभी चिल्लाने लगी और जल्दी ही उसने पानी छोड़ दिया।

अब गीला लंड फच्च फच्च फच्च करके चूत चोदने लगा.

मेरा लन्ड भी गपागप गपागप अंदर बाहर अंदर बाहर करके राशि दीदी को चोद रहा था।

इस बार भाभी ने बाजी मार दी थी. वो राशि दीदी का मज़ा लेने लगी और बोली- लगता है राज भैया ने दीदी का बाजा बजा दिया।

अब राज और रोमिल की जोड़ी एक ही बिस्तर पर ननद भाभी को चोद रही थी और आहह आहह आहह की आवाज तेज हो गई थी।
दोनों ने एक साथ अपनी रफ़्तार तेज कर दी और ताबड़तोड़ झटके लगाने लगे।

अब तो ऐसा लग रहा था जैसे कोई सुपरफास्ट ट्रेन पटरी पर दौड़ रही हों और पटरी के साथ ट्रेन भी हिल रही हो।

हम चारों की सिसकारियां एक बार फिर से तेज़ हो गई थी और आहह आहह आहह करके झटके पे झटके लगाने लगे थे।

राशि दीदी और भाभी ने फिर पानी छोड़ दिया और गीले लंड अब फच्च फच्च फच्च फच्च करने लगे।

एक बार फिर दोनों ने झटकों की रफ्तार बढ़ा दी और तेज़ी से चोदने लगे।
रोमिल ने भी पानी छोड़ दिया और मेरे लौड़े ने अपनी सख्ती बढ़ा दी एक पिचकारी छोड़ दी।

अब कमरे में ऐसा लग रहा था जैसे कोई भी नहीं है। सब एक दूसरे से चिपक कर लेट गए और सबको नींद आ गई।

सुबह 6 बजे मेरी नींद खुली तो देखा कि पिंकी भाभी की चूत खुली थी और दीदी मेरे लौड़े को पकड़ कर सो रही थी।
मैंने अपने मन को समझा कर पिंकी भाभी के ऊपर से नजर हटा ली।

धीरे से अपना हाथ राशि दीदी की गांड में फेरने लगा अब धीरे धीरे मेरे लौड़े ने अपना आकार बदल लिया.

मैंने दीदी के मुंह में डाल दिया वो जाग गई और चूसने लगी. तब मैंने उसकी गान्ड में उंगली घुसा दी और अंदर-बाहर करने लगा.

थोड़ी देर बाद मैंने दीदी को घोड़ी बना दिया और गांड में लंड घुसा दिया.
वो आहह आहह करके चिल्लाने लगी.

इतने में भाभी और रोमिल जाग ये और गुस्से में बोले- अकेले अकेले कहां भाग रहे हो?
मैंने झटके मारते हुए कहा- भाभी, कहीं नहीं जा रहा हूं. आपकी ननद को सुबह की सैर करवा रहा हूं।

भाभी ने रोमिल का लंड चुसना शुरू कर दिया और वो भी घोड़ी बन गई.
रोमिल ने अपनी बीवी की गांड में घुसा दिया और चोदने लगा।

अब दिन के उजाले में पहली बार दोनों ननद भाभी एक साथ लंड की सवारी कर रही थी।
लगभग 20 मिनट की चुदाई के बाद दोनों एक साथ झड़ गए।

दोपहर 3 बजे की गाड़ी से मैं निकल आया।

दोस्तो, मेरे दोस्त रोमिल ने अपने जन्म दिन पर मुझे अपनी बहन राशि दीदी को चुदवा कर एक अनमोल तोहफा दिया।

डबल चुदाई कहानी पढ़कर कमैंट जरूर करें कि आपको कैसी लगी मेरी कहानी!
[email protected]

About Abhilasha Bakshi

Check Also

दीदी की शादी में मेरी सुहागरात (Didi Ki Shadi Mai Meri Suhagrat)

हैलो दोस्तो.. मेरा नाम इस रेहान है। मैं मथुरा से हूँ.. इस वक्त मेरी उम्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *