मौसेरी बहन की चूत में मेरा लंड

Xxx कजिन सेक्स कहानी में मैंने अपनी मौसी की जवान बेटी की चूत का मजा लिया. मैं उनके घर गया हुआ था तो मैंने अपनी कजिन को उसके बॉयफ्रेंड से चुदती देखा.

सबको मेरा नमस्कार, यह मेरी पहली सेक्स कहानी है.
आशा करता हूँ कि ये Xxx कजिन सेक्स कहानी सबको पसंद आएगी कि कैसे मैंने अपनी मौसी की बेटी को अपने लंड की रानी बनाया.

मेरा नाम रोहित है. मैं जम्मू का रहने वाला हूँ. मेरा कद 5 फुट 10 इंच है. उम्र 26 साल, रंग सांवला.

मेरे लंड की लंबाई इतनी है कि जिसके भी ऊपर एक बार चोदने के लिए चढ़ जाता हूँ तो संतुष्ट किए बिना रुकता नहीं हूँ.

मेरी मौसी की बेटी के बारे में बताऊं तो उसका नाम सिमरन (बदला हुआ) नाम है.
उसकी हाइट 5 फुट 6 इंच है. उसके बूब्स का आकार 34 डी का है. रंग एकदम दूध सा सफेद … जो भी उसे एक बार देखता, तो बस देखता ही रह जाता.

जब यह सब हुआ था, वो उस वक्त टीचर की जॉब कर रही थी; साथ ही वो अपने घर पर ट्यूशन भी पढ़ाती थी.

हुआ ऐसा कि मैं उस समय मौसी के रहता था.
शाम को खाली टाईम मिलता तो हम दोनों घूमने निकल जाते थे.

मेरे मन में उसके लिए कभी कोई बुरा ख्याल नहीं आया था.
सब बहुत अच्छा चल रहा था.

एक दिन ऐसा हुआ कि उसके बर्थडे के दिन उसका ब्वॉयफ्रेंड रात को चोरी छिपे घर पर मिलने आया.
उसके आने का मुझे पता लग गया और मैं चोरी से सब देखता रहा.

उस रात मैं पानी पीने उठा था और किचन में गया था.
तभी मुझे सिमरन की कुछ आवाज आई.

मैं आगे बढ़ा और सिमरन के कमरे में देखने लगा.
वो अन्दर किसी लड़के के साथ एकदम नंगी थी.
मैं उसे देख कर हैरान रह गया.

वो लड़का सिमरन का ब्वॉयफ्रेंड था जो उसे उसकी बर्थडे पर चोदने आया था.

उसने सिमरन को कुछ देर धकापेल चोदा और अपना माल उसके पेट पर छोड़ कर अलग हो गया.
हालांकि सिमरन के चेहरे पर कुछ गुस्सा सा था; शायद उसका ब्वॉयफ्रेंड उसे सन्तुष्ट किए बिना झड़ गया था.

सिमरन का सेक्सी बदन देख कर मेरा लंड में आग लग गई और ऐसा लगा कि मैं अभी अन्दर जाकर उसे चोद दूँ.

फिर मैं अपने कमरे में आ गया और मुठ मारकर सो गया.

मैंने जब से ये सब देखा, तब से सिमरन को लेकर मेरा ख्याल बदल गया.
अब मैंने उसको टच करना शुरू कर दिया.

कमाल की बात ये कि उसने सब कुछ समझ लिया कि मेरा टच करने का मतलब क्या है और उसने कोई विरोध भी नहीं किया.

मैं सोचने लगा कि सिमरन तो एकदम चालू माल निकली जबकि मैं इसे बड़ी मासूम लड़की समझ रहा था.
फिर वो घड़ी आई, जब हमने एक दूसरे को पहली बारी किस किया.

उस दिन वो ट्यूशन पढ़ा रही थी तो मैं उसके कमरे में जाकर बैठ गया.
हमारी बातें होने लगीं.

कुछ टाइम बाद ट्यूशन ऑफ हुई, तो हम दोनों बिस्तर पर लेट गए और हम दोनों में बातें होने लगी.

उसने कहा- मुझे शाम को परेड जाना है … साथ चलेगा?
मैंने भी कहा- हां, मुझे भी तेरे साथ चलना है.

वो बोली- शाम को घूमना है तो क्यों ना अभी आराम कर लेते हैं!
मैंने ओके कहा.

हम दोनों ने कुछ टाइम आराम करने का सोचा.
वो सोने लगी.
उसकी आंखें एकदम बंद हो गई थीं.

मैं उसके चूचियों को ही देख रहा था और अन्दर ही अन्दर मेरे लौड़े की आग भड़क रही थी.

मैंने बहुत हिम्मत की और सोने का नाटक करते करते उसको टच करने लगा.
उसने जरा सा भी ऐतराज नहीं किया.

यह सब कुछ टाइम यूं ही चलता रहा.

मैंने उसके गाल पर अपने होंठ रख दिए.

तभी अचानक से सिमरन उठ गई.
तो मैं डर गया कि आज गया काम से.

सिमरन ने उठ कर रूम का दरवाजा बंद कर दिया और मेरी साइड अपनी गांड करके सोने का नाटक करने लगी.
मैंने उसको पीछे से हग किया, वो कुछ नहीं बोली और सोने का नाटक करती रही.

मैंने पीछे से अपना लंड उसकी गांड पर रगड़ा, तो उसकी बॉडी में गर्मी बढ़ने लगी जिसे वो रोक नहीं पाई.
वो एकदम से पलट कर मेरी तरफ घूमी और उसने मुझे बहुत टाइट हग कर लिया.

मैं कुछ समझ पाता कि वो पागलों के जैसे मुझे किस करने लगी.
मैं भी लग गया.

हम दोनों के बीच यह चूमाचाटी का सिलसिला कोई 15 मिनट तक चला.
उसके बाद किसी ने दरवाजा खटखटा दिया, तो हम दोनों डर गए.

उसने मुझसे कहा- तुम सोने का नाटक करो, मैं देखती हूँ.
उसने दरवाजा खोला, तो मौसी थीं.

वो बोलीं- अब उठो बेटा, कितना सोना है?
सिमरन ने बोला- बस हो गया … मुझे जाना भी है. आप इसको उठा दो मम्मी, इसे भी मेरे साथ जाना है. जब तक मैं तैयार हो जाती हूँ.

मौसी ने मुझे उठाया.
फिर हम दोनों तैयार होकर शहर चले गए.

सिमरन और मैं एक दूसरे के साथ एकदम शांत होकर चल रहे थे.
मैंने कहा- सब अचानक हो गया … उसके लिए सॉरी!

सिमरन बोली- जो होना था, वो हो गया. इसमें हम दोनों गलत थे.
मैंने बोला- इसमें गलत क्या था?

वो बोली- नहीं यार, हम ऐसा नहीं कर सकते!
मैंने बोला- जब तुम अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ कर रही होती हो, तब कुछ गलत नहीं लगता? मैंने देखा था कि उसने तुझे आधे रास्ते में छोड़ दिया था.

वो ये सुनकर सोच में पड़ गई.

मैंने कहा- मुझसे तुम निराश नहीं होगी.
उसने मेरी तरफ देखा और मुस्कुरा दी.

शाम को जब वापिस आए तो हम दोनों थक गए थे इसलिए जल्द सो गए.

रात के 2 बजे मैंने सिमरन को मेसेज किया.

वो ही जाग रही थी. उसका तुरंत उत्तर आया कि तू सोया नहीं?
मैंने कहा- तू कौन सा सो गई है. तू भी तो जाग रही है!

ऐसे ही हमारी बात शुरू हुई.

तो मैंने उससे कहा- मेरे रूम में आ जा!
उसने मना कर दिया कि अभी नहीं.

मैंने भी उसको ज्यादा फोर्स नहीं किया.

अगले दिन गुरुपर्व था, मौसी और घर के बाकी के सदस्य गुरुद्वारा चले गए.
मैं देर से सोया था तो सुबह देर से उठ पाया और अपने काम से जा ही नहीं पाया.

सिमरन भी कहीं चली गई थी.

मैं घर से बाहर निकल गया और इधर उधर टहलता रहा; एक पार्क में बैठ कर सिमरन के बारे में ही सोचता रहा.

फिर जब घर वापस आया तो घर पर देखा कि सिमरन आ चुकी थी.

उस वक्त घर में सिर्फ मैं और सिमरन थे.
मैं उसके पास गया और उससे बातें होने लगीं.

मैंने टीवी चलाया और उस पर एक मूवी लगा दी.
उसमें सेक्सी सीन आने पर सिमरन उठ कर जाने लगी.

मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और उसको खींचा, तो वो मेरी गोद में गिर गई और हम दोनों चिपक गए.
मैं उसके होंठों पर होंठ रख कर चूमने लगा.

पहले उसने बहुत नखरे किए पर मैंने उसको किस करना शुरू कर दिया.
वो गर्म हो गई और मेरा साथ देने लगी.

कोई 15 मिनट तक सब चला.
फिर वो बोली- मैं गेट बंद करके आती हूँ.
मैंने उसे जाने दिया.

उसके वापस आते ही हम दोनों फिर से शुरू हो गए.
मैंने टाइम खराब न करते हुए उसको नंगी कर दिया और उसने भी मेरे कपड़े खोलना शुरू कर दिया.

जल्द ही हम दोनों ने एक दूसरे के सारे कपड़े उतार दिए.
मैंने उसके मम्मों को मसलना शुरू कर दिया.
उसकी सिसकारियां निकलने लगीं.

कुछ देर बाद मैंने उसको बेड पर लिटा दिया और उसके जिस्म के साथ खेलने लगा.
वो भी मेरे साथ मस्ती कर रही थी.

उसके दूध बड़े मस्त थे.
मैं उसके मम्मों के साथ मस्ती कर रहा था और उसके निप्पल अपने मुँह में लेकर खींच खींच कर चूस रहा था, जिससे उसकी चूत में सनसनी होने लगी थी.

वो ‘इस्स आंह धीरे कर न …’ कहती हुई मुझसे मजे लेने लगी थी.
मम्मों से खेलते खेलते मैंने उसकी फुद्दी में उंगली घुसा दी.
वो तड़फ उठी.

मैंने समय खराब न करते हुए उसकी फुद्दी को चाटना शुरू कर दिया और कुछ ही देर में हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए.

एक दूसरे के गुप्तांग चाटते चूसते हुए 20 मिनट हो गए.
यह सब मस्त चला.
फिर वो झड़ गई और उसके बाद मैं भी झड़ गया.

अब बारी उसको चोदने की थी.
वो मेरे लंड के साथ खेलने लगी और जल्दी ही मैं फिर से उसको चोदने को तैयार हो गया.

मैंने उसकी गांड के नीचे एक तकिया रखा और उसकी टांगें खोल कर उसकी फुद्दी पर लंड रगड़ने लगा.
वो तड़फने लगी और बोलने लगी- आह … अब पेल भी दे बहनचोद साले … फाड़ दे मेरी फुद्दी!

वो खुल कर गालियां निकालने लगी.
उसकी मादक सिसकारियां मुझे पागल कर रही थीं.

मैंने जैसे ही अपना लंड फुद्दी में डाला, उसको रोना आ गया.
वो दर्द से तड़फने लगी और बोली- आह धीमे कर … मैं कहीं भागी थोड़ी जा रही हूँ.

मैंने उसको किस की और अपने काम पर लग गया.

धीरे धीरे मेरा पूरा लंड उसकी फुद्दी में घुस गया और हम दोनों चुदाई का मजा लेने लगे.

कोई 10 मिनट बाद मैंने उसको घोड़ी बनाया और हमारी धकापेल चुदाई चलने लगी.

सिमरन के मुँह से लगातार गालियां निकल रही थीं- आह चोद दे साले भड़वे … आह पेल मादरचोद आह पूरा लंड पेल कमीने!
उसकी गालियां मुझे और भी पागल बना रही थीं.

करीब 20 मिनट बाद मैं झड़ने को हुआ.
मैंने उससे पूछा, तो सिमरन बोली- मुझे तेरा माल अन्दर लेना है.
मैंने भी बिंदास अपनी ट्रेन सरपट दौड़ा दी.

उसके बाद हम दोनों वाशरूम गए.
मैंने उसको नहलाया और उसने मुझे!

उसके बाद मौसी का कॉल आया कि हम सब रात को 10 बजे तक आ पाएंगे.

जब मौसी ने यह कहा तो सिमरन बहुत खुश हो गई क्योंकि उस वक्त शाम के 5 बज रहे थे.

सिमरन बोली- जा और बाहर से कुछ खाने का ले आ!
मैंने उसको किस किया और चला गया.

मैं जैसे ही वापिस आया तो देखा कि सिमरन वनपीस पहनी हुई थी.
वो बोली- चलो, पहले जल्दी से खाना खाओ .. फिर दोबारा शुरू करते हैं.

हम दोनों ने दो दो पैग लगाए और खाने के बाद 2 राउंड और लगाए.
जिसमें मैंने उसकी फुद्दी पर डेरी मिल्क सिल्क चॉकलेट लगाकर उसको खूब चूसा भी और चोदा भी.

यह Xxx कजिन सेक्स का सिलसिला अब हर दूसरे दिन चलने लगा था.
अभी दो साल पहले उसकी शादी हो गई और जीजू उसको अपने साथ न्यूजीलैंड लेकर चले गए.

उसके जाने के बाद लॉकडाउन लग गया, जिसकी वजह से वो अभी तक वापिस नहीं आई है.
इस साल उसका वापसी आना तय हो गया है.
शायद हम दोनों मिल पाएं क्योंकि मैं भी फिलहाल देश से बाहर जाने वाला हूँ.

ये सब हमारे वीजा पर निर्भर है कि हमारा मिलन हो पाता है या नहीं.

हालांकि सिमरन के जाने के बाद मैंने बहुत सी लड़कियों को चोदा था, पर उसके जैसा मजा कहीं नहीं आया.

मैंने अपने चाचा की बेटी, जिसके 2 बच्चे हैं, उसको भी चोदा था.
वो सेक्स कहानी भी आपको सुनाऊंगा.

दोस्तो, ये मेरी पहली सच्ची सेक्स कहानी थी … आपको Xxx कजिन सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करें.
आपके मैसेज का इंतजार रहेगा.
[email protected]

About Abhilasha Bakshi

Check Also

पड़ोस की लड़की के साथ चुदाई का मजा

देसी फुदी Xxx कहानी में मेरे पड़ोस में बने नए घर में एक परिवार आया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *