45 की चूत 32 का लंड (Desi Hot Choot Ki Kahani)

देसी हॉट चूत की कहानी मुम्बई की रहने वाली एक इंडियन भाभी की है. उससे मेरी मुलाक़ात ऑनलाइन हुई थी. मेरे लंड की फोटो देख उसने मुझे अपने घर बुलाया.

सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार!
मेरी पिछली कहानी
चाची का कामुकता भरा प्यार सिर्फ मेरे लिए
आपने पढ़ी. काफी लोगों के मेल मेरे पास आये. सभी मेल पढ़कर अच्छा लगा।

अब मैं अपनी देसी हॉट चूत की कहानी पर आता हूं.

मेरा नाम शिबू (बदला हुआ नाम) मैं जयपुर से हूँ।

लगभग 6 महीने पहले मेरी फेसबुक पर एक 45 साल की महिला से दोस्ती हुई जिसका नाम नियाशा (बदला हुआ नाम)

नियाशा है तो जयपुर से … पर मुम्बई में रहती है। नियाशा का फिगर 34-32-38 है और मस्त गोरी चिट्टी पटाखा माल है. नियाशा को देख के कोई बोल नहीं सकता कि वो 45 साल की है; वो लगती जैसे 35 की हो।

तो मेरी नियाशा से दोस्ती होने के बाद हम फेसबुक पर चैट करने लगे. ये चैट होते होते सेक्स चैट पर आ गई।

नियाशा ने बताया कि उसका शौहर बिज़नेस के चक्कर में उसे ठीक से चोद नहीं पाता और उसमें चूत चुदवाने की बहुत आग भरी है।

तब मैंने उसे अपने लंड की फ़ोटो भेजी.
उसको मेरा लंड बहुत पसंद आया।

सेक्सी चैट करते तो काफी टाइम हो गया था; अब बारी थी हम दोनों के मिलन की.
हम दोनों ने मिलकर प्लान बनाया.

उसको कुछ दिनों के लिए अपने जयपुर वाले घर आना था.
कुछ दिनों के बाद नियाशा आई और एक दिन उसने मुझे अपने घर का पता मैसेज किया और मुझे रात को अपने घर पर बुलाया।

वो अकेली आई थी मुम्बई से, बड़े घर की औरत थी; ऊपर से हाई प्रोफाइल लेडी!
जब मैं उससे पहली बार उसके घर जा कर मिला … देखा कि कसम से क्या पटाखा माल थी!

उसने मुझे कहा- आज की रात को हम अच्छे से सेलिब्रेट करेंगे, पहले हम बीयर पियेंगे, उसके बाद खाना खाएंगे।

खाना हमने बाहर से आर्डर किया और बीयर में खुद लेकर आया.

हमने बीयर पीना शुरू किया.
पीते पीते उसने कहा- यार, जबसे मैंने आपके लंड की फ़ोटो देखी है, तब से उससे चुदवाने का मन कर रहा है. अब और नहीं रहा जाता.

उसने मेरी जीन्स ओर अंडरवियर निकाल दी.
बाकी मैंने खुद अपने कपड़े निकाल दिए.

नियाशा ने मेरे लंड को अपने हाथों मसला और मेरे लंड को चूसने लगी.
जैसे ही नियाशा ने मेरे लंड को ले के चूसना शुरू किया मेरी आह … निकलने लगी.

वो बहुत अच्छे से मेरा लंड चूसने लगी, लंड चूसने की वो पुरानी खिलाड़ी लग रही थी।
बीच बीच में थोड़ी बीयर पीती … फिर मेरा लंड चूसने लगती,
ऊपर से मैं भी बीच बीच में बीयर पिता रहता.

ऐसा करते हमें काफी टाइम हो गया.

फिर घर की डोरबेल बजी.
हमने जो खाना आर्डर किया था वो आ गया.

वो गेट से खाना ले आई और बोली- पहले हम खाना खा लेते हैं.
मैंने कहा- ठीक है. पर एक काम करते हैं … हम दोनों नंगे होकर ही खाना खाएंगे.
उसने कहा- ठीक है.

उसने सूट पहन रखा था; मैं तो पहले से ही नंगा था।

नियाशा अपने कपड़े उतारने लगी तो मैंने कहा- जान, आज मैं खुद ही तुम्हारे कपड़े उतारूंगा.

फिर मैंने उसके पूरे कपड़े उतार दिए और उसे पूरी नंगी कर दिया.

क्या लग रही थी वो दोस्तो … उसके 34″ के बूब्स और 38″ की गांड … मन तो कर रहा था कि अभी उसे चोद दूं।

पर पहले हमने खाना खाया फिर हम दोनों उसके बैडरूम में गए.
फिर अटेच बाथरूम में पहले हमने साथ में शावर लिया.

वहीं पर हम एक दूसरे को चूमने चाटने लगे.

मैं नियाशा के 34 इंच के बूब्स को पीने और चूसने लगा. मैंने उसके दोनों बूब्स को अच्छे से चूसा और मसला.

फिर वो मेरा लंड चूसने लगी।

काफी देर साथ में नहाने और चूमा चाटी के बाद हम दोनों उसके बेड पर आ गए.

वो बेड पर सीधा लेट गई और मैं नियाशा की चिकनी चूत को चूसने लगा.
नियाशा ‘आह … ससश्ह ससश्स …’ करने लगी.

उसकी चूत से नमकीन सा पानी आ रहा था जो मुझे अच्छा लग रहा था जैसे मैं अभी भी बीयर पी रहा हूँ।

दोस्तो, मैंने अपनी पिछली कहानी में बताया था कि मुझे चूत को चूसना कितना पसंद है।
मैं पूरी शिद्दत से नियाशा की चूत को चूस रहा था; पूरी जीभ को नियाशा की चूत में आगे पीछे कर रहा था.

वो मेरा सर पकड़ के अपनी चूत पर दबा रही थी और बोल रही थी- जान चूस सश्हस … मम्मम्म … जाओ ओऊऊऊ मेरी चूत को ऊऊ!

मैं लगातार उसकी देसी हॉट चूत को किसी कुत्ते की तरह चूसे जा रहा था।

फिर मैंने नियाशा को 69 में आने को बोला.

हम 69 में आ गए.
अब वो मेरा लंड चूस रही थी. नियाशा एक पक्की रंडी की तरह मेरे लंड को पूरा अपने मुंह में ले जाती और मैं तो जैसे आसमान में उड़ रहा था.

उसने मेरे पूरे लंड को अपने थूक से गीला कर दिया. कभी अपने हाथ से मेरे लंड की मुठ मारती तो कभी अचानक से फिर मेरे लंड को अपने मुंह में ले के चूसने लग जाती.
और आवाज़ आती ‘सपड़ सपड़ … मम्मम्म्म … हह … आह!

अब मैं भी पूरे जोश में आ गया और उसकी चूत को काटने खाने और चूसने लगा।

हम दोनों अपने अपने काम में लगे हुए थे दोनों को बहुत मज़ा आ रहा था।

फिर उसने बोला- जान, अब मेरी चूत को चोद दो, अब नहीं रहा जाता।

वो बेड पर सीधी लेट गई और उसने अपनी टांगों को चौड़ा किया और मेरे लंड को पकड़ के अपनी चूत पर लगाया और बोली- अब जम के चोदो मुझे!

फिर मैंने झटके से पूरा लंड उसकी हॉट चूत में घुसा दिया और हचक हचक कर नियाशा को चोदने लगा.

पूरी स्पीड से मैं नियाशा को चोदे जा रहा था.
वो सिसकार रही थी- आह हह … मम्मम्म … और जोर से जान आह हह … चोदो मुझे आह हहह … बस आज की रात मुझे चोदते जाओ ओऊऊऊ … बहुत दिनों से अच्छे से चुदी नहीं! आज मुझे रगड़ रगड़ के चोद दो हह!

मैं उसे लगातार चोदे जा रहा था।

फिर मैंने उसे घोड़ी बनने को बोला.
और वो घोड़ी बन गई.

उसकी 38 इंच की बड़ी गांड देख के नेरा मन किया उसकी गांड मारने का!
फिर मैंने सोचा कि पहले एक बार इसकी चूत चोद लूं, फिर गांड भी मार लूंगा.

मैं नियाशा को घोड़ी बना के चोदने लगा. उसकी गांड को पकड़ के धपाधप चोद रहा था.
और वो इस चुदाई का मज़ा ले रही थी- आह हह … ओ यस मम्मम्म्म … और चोदो मुझे … बस चोदते जाओ … आज से मैं तुम्हारी रंडी हूं. मुझे हमेशा ऐसे ही ईईई … आह हहह … चोदते रहना!

मेरा पानी निकलने वाला था, मैंने उसे बताया.
तो उसने चूत में ही निकालने को बोला.

उसने कहा- मैं भी आ रही हूं … उम्म्म म्म्म!

फिर हम दोनों एक साथ झड़े और वो चीख सी पड़ी- ईई अर्र ईई आ!

हम दोनों इस धाकड़ चुदाई के बाद थक गए थे, दोनों की सांसें तेज चल रही थी।
काफी देर तक हम दोनों अपनी साँसें संभालते रहे.

तो दोस्तो, यह थी मेरी कहानी.

उस रात मैंने नियाशा की गांड भी मारी वो अगली कहानी में बताऊंगा।

अभी नियाशा दिसंबर में फिर आ रही है जयपुर में!
हम फिर चुदाई करेंगे।

मेरे प्यारे अन्तर्वासना पाठको, आपको मेरी देसी हॉट चूत की कहानी कैसे लगी? आप मुझे अपने कमेंट या सुझाव मेल करें या मुझे हैंगआउट पर कमेंट करें।
[email protected]

About Abhilasha Bakshi

Check Also

डॉक्टर साक्षी नहीं सेक्सी डॉक्टर (Doctor Sakshi Nahi Sexy Doctor)

दोस्तो, माफ़ी चाहता हूँ कि इस बार मैंने कहानी लिखने में वक़्त ज्यादा लगा दिया …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *